मेरी आशिकी तुमसे जुदाई ना सह पायेगी,
सपनों की कस्ती मेरे आंशुओं में बाह जाएगी।
में तो फ़ना हो जाऊंगा इस दुनिया से मगर,
मेरी आशिकी तेरी धड़कनो में रह जाएगी।।

Author

Write A Comment